रोजाना 4 दाने काफी हैं वजन कम करने कालेस्ट्रोल और पेट की बीमारियां दूर करने के लिए – Daily Health Tips

0
236


मानव शरीर की रचना पंच तत्वो से होती है। पृथ्वी, अग्नि, जल, आकाश और वायु; इन पंच तत्वो से निर्मति मानव शरीर को जीवंत रहने के लिए, और ऊर्जा प्राप्त Ayurvedic Methods To Scale back Weight in Hindiकरने के लिए संतुलित आहार ग्रहण करना परम आवश्यक है। हर किसी के लिए नित्य व्यायाम और योग करना लाभदायी होता है। यह शरीर एक कोरे कागज़ की तरह होता है, जिस पर हम अपने आचरण की कलम से कुछ भी लिख सकते हैं। जहाँ खानपान में लापरवाही और अनियमित दिनचर्या मानव शरीर को मोटापे और तरह-तरह की बीमारियों की तरफ धकेलती है वहीँ एक अच्छी डाइट लेना और नित्य व्यायाम करना हमें एक स्वस्थ गठीले शरीर का मालिक बना सकता है।

मित्रों, इस मशीनी युग में जहाँ हमें पहले की अपेक्षा बहुत कम शारीरिक श्रम करना पड़ता है बहुत से लोग मोटापे का शिकार होते जा रहे हैं। मैंने कहीं पढ़ा था-

इस दुनिया में जितने लोग खाने की कमी से नहीं मरते उससे कहीं ज्यादा अधिक खाने कि वहज से मर जाते हैं।

आज का इन्सान सफलता पाने और प्रतिस्पर्धा में बने रहने के लिए जी तोड़ महेनत करता है। और उसी भाग दौड़ में अपने सच्चे सुख “स्वास्थ्य” की और ध्यान देना भूल जाता है। किसी के पास दुनियाँ भर की दौलत हो, पर उसे खुद पर खर्च ना कर पाये, उसे भोग ना सके, तो वह धन ना होने के बराबर होता है। इसीलिए धन-दौलत, शोहरत, मिल्कियत, कमाना जरूरी है, पर साथ-साथ खुद का स्वास्थ्य संभालना भी बेहद जरूरी है। हर एक इन्सान को अपने जीवन में, दिन के 24 घंटे में से 1 घंटा अपने शरीर की और ध्यान लगाने के लिए अवश्य निकालना चाहिए। Should Learn: कब तक करते रहेंगे हेल्थ को अनदेखा

खैर, इन बातों को लेकर अक्सर हमारी आँख तब खुलती है जब हम already अपनी life type की वजह से endure कर रहे होते हैं। और मोटापा भी एक ऐसी ही समस्या है जिसे लेकर लोगों की आँख देर से खुलती है। दोस्तों, यहाँ ये समझना ज़रूरी है कि मोटापा सिर्फ अपने आप में एक समस्या नहीं है बल्कि इसका रिश्ता और बहुत सी गंभीर बीमारियों जैसे :

डायबिटीज (टाइप -2),
हाइ ब्लड प्रैशर,
दिल की बीमारियाँ और स्ट्रोक,
कुछ खास प्रकार के केन्सर,
अनिंद्रा की बीमारी,
किडनी की बीमारी,
फैटी लिवर- लिवर में मेद जमा होने से लीवर खरब होने की बीमारी,
औस्ट्येआर्थराइटिस- जोड़ो की बीमारी, आदि
से भी है।

इसलिए कुछ भी करके आपको अपने Weight Scale back करने के लिए पूरे efforts करने चाहिए।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here